रामनवमी 2021 तारीख, जाने महत्व, शुभ मुहूर्त और पूजा विधि, शुभकामनाएं, इमेज

राम नवमी का पर्व चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की नवमी को मनाया जाता है। हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार इस दिन मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का जन्म हुआ था। धर्म शास्त्रों के अनुसार त्रेता युग में रावण के अत्याचारों को समाप्त करने के लिए भगवान विष्णु ने श्री राम के रूप में धरती पर जन्म लिया था। 

रामनवमी तिथि

नवमी तिथि प्रारंभ:- 21 अप्रैल 2021 को 12:43AM

नवमी तिथि समाप्त:- 22 अप्रैल 2021 को

12:35 AM

महत्त्व

रामनवमी के दिन ही चैत्र नवरात्रि की समाप्ति हो जाती है। 9 दिनों तक चलने वाली इस नवरात्रि में माता रानी का पूजा पाठ किया जाता है और रामनवमी के साथ ही नवरात्रि का समापन हो जाता है। इस दिन भक्त पवित्र नदियों में स्नान करके पुण्य के भागीदार बनते हैं। नवमी वाले दिन श्री राम जी का जन्म हुआ था इसलिए इसे रामनवमी के रूप में मनाया जाता है। 

पूजा विधि

नवमी की तिथि वाले दिन प्रातः काल स्नान करके स्वच्छ वस्त्र धारण करना चाहिए। पूजा स्थान को शुद्ध करके पूजा आरंभ करना चाहिए। पूजन में गंगा जल, पुष्प, फल, मिष्ठान आदि का प्रयोग करना चाहिए।रोली, चंदन, धूप, गंध आदि से पूजन करना चाहिए। तुलसी का पत्ता और कमल का फूल भगवान को अर्पित करना चाहिए। पूजन के बाद रामचरितमानस और रामायण का पाठ करना अति शुभ माना जाता है। पूजन समापन से पूर्व भगवान श्री राम की आरती करना चाहिए। 

शुभकामनाएं और इमेज

Comments

comments