MOBILE INTERNET MONTHLY RECHARGE 28 दिन का ही क्यों होता है?? 

 

आप लोगों ने भी सोचा तो होगा कभी के mobile internet की validity 28 दिन की क्यों होती है जबकि महीना तो 30 या 31 दिन का होता है।  तो चलिए दोस्तों बिना देर किए जल्दी से आपको बता देती हूं कि ऐसा क्यों होता है। 

 

Month मे 30 दिन होते हैं फिर Mobile Recharge 28 दिन का क्यों??

हम सभी लोग mobile use करते हैं और उसमें internet का भी उपयोग किया जाता है। जब भी हम लोग कोई recharg करवाते हैं तो उसकी validity हमें 28 दिन की मिलती है

यानी कि 28 दिन बाद हमारे mobile internet का recharg खत्म हो जाता है पर उसे बोला जाता है 1 महीने का रिचार्ज। 

Mobile operator company ऐसा इसलिए करती है जिससे कि उनके profit और market को बढ़ाया जा सके।

अगर हम साल के 1 महीने का recharge करवाते हैं तो 12 महीने के हिसाब से हमें 12 recharg कराने होते हैं।

लेकिन अगर 28 दिन के महीने के हिसाब से हम रिचार्ज करवाते हैं तो हमें लगभग 13 महीने का रिचार्ज 1 साल में कराना होता है,

तो इस हिसाब से जो इधर 28 दिन में हमारे दिन cut हुए हैं,  वह उधर जोड़कर एक extra month cover कर लेते हैं। 

ऐसा करने के पीछे इन कंपनियों का उद्देश्य सिर्फ profit बनाना होता है। इसके पीछे एक कारण यह भी होता है

कि यह कंपनियां मोबाइल रिचार्ज के rate ना बढ़ाते हुए उसकी validity के कुछ दिन कम कर देते हैं जिससे कि customer को rate ज्यादा ना लगे।लगे।

एक छोटे से उदाहरण से समझते है इसे जैसे एक chocolate 10रु की आती है तो profit के लिए उसका दाम ना बढ़ाते हुए उसका वजन थोड़ा कम कर दिया जाता है

और उसका दाम वहीं रहने दिया जाता है, जिससे कि customer को यह लगता है कि इसका दाम तो वही है मतलब इसमें कोई change नहीं आया है। 

अगर दाम बढ़ा दिया जाएगा तो वह customer की नजरों में आएगा, लेकिन अगर quantity कम कर दी जाए तो वह बहुत ज्यादा effective नहीं लगता है कस्टमर को।

इसीलिए mobile operator companies अपने दाम को ना बढ़ाते हुए महीने के  दिन को कम कर देती हैं जिससे कि कस्टमर को दाम ज्यादा नहीं लगता है

यही कारण है कि मोबाइल ऑपरेटर कंपनी का monthly recharge 28 दिन का होता है ना कि 30 या 31 दिन  का… '$'

 

Comments

comments