हर-तरफ-हो-रही-है-इस-ऑस्ट्रेलियाई-युवा-बल्लेबाज-की-चर्चा,-गिलक्रिस्ट-टेलर-ने-भारत-के-खिलाफ-खिलाने-की-मांग-की

ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट का मानना है कि उभरते हुए बल्लेबाज विल पुकोवस्की को भारत के खिलाफ पहले टेस्ट के लिए अंतिम एकादश में जगह नहीं मिलेगी. उनका कहना है कि चयनकर्ता दबाव का सामना कर रहे जो बर्न्स को बाहर करने से हिचक रहे हैं. गिलक्रिस्ट ने हालांकि स्वीकार किया कि पुकोवस्की को खिलाने के ठोस कारण हैं. गिलक्रिस्ट ने कहा कि पुकोवस्की के शेफील्ड शील्ड में लगातार दो दोहरे शतक के साथ मजबूत दावा पेश किया है. लेकिन ऑस्ट्रेलिया के पारी का आगाज करने के लिए बर्न्स और डेविड वार्नर की जांची-परखी जोड़ी पर भरोसा करने की संभावना है.

टेलर ने बांधे तारीफों के पुल

गिलक्रिस्ट ने कहा कि बर्न्स भले ही बड़ी पारियां खेलने में नाकाम रहा हो लेकिन टीम और चयनकर्ता वार्नर के साथ उनकी साझेदारी के महत्व को समझते हैं. पूर्व कप्तान मार्क टेलर सहित कई पूर्व खिलाड़ी भारत के खिलाफ 17 दिसंबर से एडीलेड में दिन-रात्रि टेस्ट के साथ शुरू हो रही चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला की अंतिम एकादश में पुकोवस्की को जगह देने की मांग कर चुके हैं. टेलर ने कहा, ‘पुकोवस्की खुद भी कह चुके है कि वह तैयार है. उन्होंने दो दोहरे शतक लगाये है. जब वह लय में है तभी उनका चयन (अंतिम 11 में) होना चाहिए. उनके पास अगले दशक का शानदार खिलाड़ी बनने की क्षमता है.’

चयन समिति के अध्यक्ष ट्रेवर होन्स और कोच जस्टिन लैंगर ने हालांकि संकेत दिए हैं कि बर्न्स को टेस्ट टीम से बाहर करने की संभावना नहीं है. बर्न्स इस साल 11.4 के औसत से ही रन बना पाए हैं और इस दौरान सिर्फ एक बार 20 रन के आंकड़े को पार करने में सफल रहे. हालांकि पिछली गर्मियों में 32 के औसत से 256 रन बनाकर वह ऑस्ट्रेलिया के तीसरे सर्वश्रेष्ठ स्कोरर थे. गिलक्रिस्ट ने हालांकि कहा कि बर्न्स और पुकोवस्की को लेकर अंतिम फैसला आस्ट्रेलिया ए और भारत के बीच अगले महीने होने वाले अभ्यास मैच पर निर्भर करेगा.

सोशल मीडिया से दूर हुए विल

पुकोवस्की ने भारत के खिलाफ अगले महीने शुरू हो रही टेस्ट श्रृंखला को लेकर तमाम हाइप और अटकलबाजियों से दूर रहने के लिये सोशल मीडिया पर अपने अकाउंट बंद कर दिये हैं. पिछले कुछ साल में ऑस्ट्रेलिया के बहुत कम युवा क्रिकेटरों की इतनी चर्चा हुई है जितनी शेफील्ड शील्ड में शानदार प्रदर्शन करने वाले पुकोवस्की की हो रही है. अपना ध्यान भटकने से बचाने के लिये उन्होंने सोशल मीडिया से पूरी तरह किनारा कर लिया है

पुकोवस्की और कैमरन ग्रीन समेत पांच नये खिलाड़ियों को 17 सदस्यीय ऑस्ट्रेलियाई टीम में शामिल किया गया है. पुकोवस्की ने हाल ही में शेफील्ड शील्ड में लगातार दो मैचों में दोहरे शतक लगाये थे. उन्होंने साउथ ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नाबाद 255 रन बनाने के बाद वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 202 रनों की पारी खेली. सत्र की शुरूआत में टीम से बाहर के बाद भी सिर्फ तीन पारियों में 495 रन के साथ मौजूदा टूर्नामेंट के शीर्ष स्कोरर है. पुकोवस्की 2018 में ही टेस्ट टीम में जगह बनाने के करीब थे लेकिन मानसिक स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों के कारण उन्होंने खेल से ब्रेक ले लिया था.

Source: https://www.abplive.com

Comments

comments