कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शन को शनिवार को 10 दिन पूरे हो रहे हैं आज दोपहर 2:00 बजे से सरकार और किसान संगठनों के प्रतिनिधियों के बीच पांचवें दौर की बातचीत होगी इससे पहले ही शुक्रवार को किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद करने का ऐलान कर दिया है।

किसानों ने सभी टोल प्लाजा पर कब्जे की भी चेतावनी दी है शुक्रवार को किसानों की मीटिंग के बाद उनके नेता हरविंदर सिंह लखवाल ने कहा आने वाले दिनों में दिल्ली के बची हुई सड़कों को भी हम ब्लॉक कर देंगे। किसान संगठन पहले ही कह चुके हैं कि 5 दिसंबर यानी शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुतले जलाए जाएंगे।

तिगड़ी कुंडली बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे 170 से ज्यादा किसान बुखार और खांसी से पीड़ित है जहां लगे कैंपों में हजारों किसान दवा ले रहे हैं अपील के बावजूद किसान कोरोनावायरस टेस्ट नहीं करवा रहे हैं 3 किसानों की मौत तक हो चुकी है समर्थन देने पहुंचे एवं विधायक बलराज कुंडू कोरोना पॉजिटिव मिले है ।

भाकियू के प्रवक्ता राकेश ने बताया किसानों से अपील कर रहे हैं कि तबीयत खराब होते ही चेकअप करवा ले और दवाई ले। तथा जिन किसानों को बुखार है वह कोरोना टेस्ट करा लें ।

अब तक एक हजार किसान दवा ले चुके हैं लेकिन अभी भी किसान कोरोना टेस्ट के लिए तैयार नहीं है उनका कहना है कि हम टेस्ट बाद में कराएंगे पहले जिस चीज के लिए यहां आए हैं उसे पूरा करेंगे।

किसानों के सपोर्ट में अवार्ड वापसी का सिलसिला दूसरे दिन शुक्रवार को भी जारी रहा लेखक डॉ मोहन जी चिंतक डॉ जसविंदर और पत्रकार जो राजवीर ने अपने साहित्य अकादमी अवार्ड लौटा दिए।

गुरुवार को पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने अपना पद्म विभूषण अवार्ड लौटा दिया था उनके अलावा राज्यसभा सांसद सुखदेव सिंह ढींडसा ने अपना पद्मभूषण वापस करने का ऐलान किया था किसानों का कहना है कि 7 दिसंबर को खिलाड़ी भी अपने अवार्ड लौटाएंगे.

Comments

comments