shah-rukh-latest-pic

बॉलीवुड के बादशाह और लाखों करोड़ों दिलों पर राज करने वाले शाहरुख खान की पहचान एक रोमांटिक हीरो की है। शाहरुख खान ने ही अपने दर्शकों को प्यार करना सिखाया है और रोमांस का मतलब समझाया है। लेकिन शाहरुख जैसा प्यार कर पाना हर किसी के बस की बात नहीं होती। 90 के दशक से लेकर आज तक फिल्मों में शाहरुख जैसा रोमांस कोई नहीं कर पाया है। और हर लड़की कहीं ना कहीं अपने सपनों के राजकुमार को शाहरुख जैसा ही देखना चाहती है। लेकिन लाखों दिलों पर राज करने वाले शाहरुख खान ने दो प्यार करने वालों की जिंदगी बर्बाद कर दी। यह हमारा कहना नहीं है बल्कि यह दावा मुंबई के एक जोड़े ने कुछ साल पहले किया था।

शाहरुख ने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी

shah-rukh-couple

यह कहानी ह्यूमन ऑफ मुंबई के इंस्टाग्राम पेज से साझा की गई थी इस कहानी की शुरुआत ही इस लाइन से हुई थी 'शाहरुख ने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी'।

दरअसल शाहरुख की रोमांटिक फिल्में देखकर एक लड़की अपने लिए वैसे ही प्यार की उम्मीद करने लगी थी,जैसे शाहरुख फिल्मों में अपने हीरोइनों से प्यार करते हैं वैसे ही कुछ उस लड़की के मन में भी तमन्ना थी कि उसका लाइफ पार्टनर भी उसे वैसे ही प्यार करेगा।

सोशल मीडिया पर साझा की गई प्रेम कहानी की शुरुआत में लड़की ने लिखा 'शाहरुख ने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी। बचपन से ही मैंने यह सपना देखा कि मेरा एक परफेक्ट मैन मुझे परफेक्ट प्रपोजल देगा। बैकग्राउंड में म्यूजिक बजेंगे, वह मुझे प्यार से जगाएगा,तभी हवा में मेरे बाल लहराने लगेंगे और वह घुटनों पर बैठेगा और मेरी उंगलियों में अंगूठी पहनाएगा। लेकिन मेरे साथ ऐसा कभी नहीं हुआ।

लड़की आगे लिखती है 'मैं अपने बंगाली माता पिता को यह समझाने की कोशिश करती रही कि मुझे इस पंजाबी, बनिया लड़के से शादी करनी है। हमने 3 साल तक एक दूसरे को डेट किया और हमारा ज्यादा वक्त अपने परिवार को साथ लाने में ही लग गया। हमारी धूमधाम से शादी के बीच ही मैं जान गई थी कि मेरा वह प्रपोजल मुझे कभी नहीं मिलेगा।

आगे लड़की ने कहा 'मुझे जब वह प्रपोजल नहीं मिला तो मैंने सोचा कि क्यों ना मैं यह काम कर लूँ। इसके बाद हम डेट करते समय जिस रेस्टोरेंट में पहली बार मिले थे, वहीं मैंने सरप्राइज प्लान किया। मैंने 'मेरी मी' का म्यूजिक बजाया और घुटनों के बल बैठ कर कहा 'आशीष अग्रवाल क्या तुम मुझसे शादी करोगे' उसने मुझे गले लगा लिया और कहा 'उम्मीद है हमारे बच्चे इतने फिल्मी ना होंगे', वह एक खूबसूरत पल था।

Comments

comments