वैक्सीन khatam hai patna me

भारत में कोरोना की रफ्तार अभी थमी नहीं है और इसे रोकने के लिए टीकाकरण किया जा रहा है कोरोना के टीके की कमी के कारण पटना जिले में बुधवार से 18 से 44 साल तक के व्यक्तियों को कोरोना का टीकाकरण नहीं होगा।

इसके साथ ही इस उम्र वर्ग के लोगों को टीका देने के लिए बनाए गए 10 विशेष केंद्रों को फिलहाल बंद कर दिया गया है मिलने के बाद ही इस उम्र वर्ग के लोगों को टीकाकरण प्रारंभ किया जाएगा। हालांकि 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को पहले की तरह ही सरकारी अस्पतालों में व्यक्ति रहेगी इसके लिए पर्याप्त संख्या में जिले में डोज उपलब्ध है।

जब पटना जिले का टीका आवंटित होगा तो 18 से 44 साल तक के लोगों को फिर से टीकाकरण किया जाना शुरू हो जाएगा। आपको बता दें कि 18 से 44 साल तक के लोगों के लिए 6 लाख 89 हजार 20 मई 24 मई के बीच मिलने वाले हैं।

Vaccine shortage hits inoculation drive in Andhra Pradesh | Amaravati News  - Times of India

जिसके बाद जो भी परेशानी आ रही है वह नहीं आएगी वहीं राज्य में अब तक 8 लाख से अधिक युवकों का टीका लग चुका है । राज्य में अब तक 9310946 लोगों को कोरोना का टीकाकरण हो चुका है ।  जिनमें 869932  18से 44 साल तक के युवा है वही मंगलवार को 52000 लोगों ने भी कर लिया था।

इनमें 45 से अधिक उम्र के 12191 लोगों को पहला और 2044 लोगों को दूसरा दोष दिया गया था वही 18 से 44 वर्ष के लोगों को लोगों ने पढ़ लिया बिहार को 1 जून से कोरोना कि वैक्सीन के 1734000 डोज मिलने वाले हैं। जिसके बाद बिहार में आ रही वैक्सीनेशन की समस्या कई हद तक समाप्त हो जाएगी फिलहाल के लिए वैक्सीन के 10 केंद्र जो विशेष तौर पर 18 वर्ष से 44 वर्ष तक के युवाओं के लिए बनाए गए थे वह बंद कर दिए गए हैं।

Comments

comments