कार्तिक मास 2020 began on 23 October and ends on 21 November

कार्तिक मास हिंदू धर्म में अत्यधिक पवित्र महीना माना जाता है यह चातुर्मास का आखरी महीना है। इसी माह से देव तत्व मजबूत होते हैं इसी महीने में धन और धर्म दोनों से संबंधित प्रयोग किए जाते हैं।

इस महीने में अनेक शुभ कार्य होते हैं शुभ पर्व मनाए जाते हैं यह महीना हिंदू मान्यताओं और हिंदू त्योहारों से परिपूर्ण है ।कार्तिक मास में ही भगवान विष्णु अपनी योग निद्रा से जागते हैं ।

कार्तिक मास में मां लक्ष्मी की कृपा के लिए दीपावली जैसा बड़ा पर्व मनाया जाता है फिर भी कार्तिक मास में हर दिन मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए कई उपाय किए जाते हैं भगवान विष्णु और महालक्ष्मी की संयुक्त पूजा की जाती है।

कार्तिक महीने में मेवे खाने की सलाह दी जाती है जिन चीजों का स्वभाव गर्म हो और लंबे समय तक उर्जा बनाए रखें ऐसी चीजों का खाना चाहिए। इस महीने में दाल खाने की मनाही की गई है।

सूर्य की किरणों का स्नान भी इसी महीने उत्तम माना जाता है इस महीने में दोपहर में सोने की भी मनाही की गई है।  यह महीना अति पावन और पवित्र माना गया है इसमें दीप दान करने से शुभ फल की प्राप्ति होती है।

कार्तिक मास का यह महीना भगवान विष्णु को अत्यंत प्रिय है साथ ही यह महीना माता लक्ष्मी को भी बड़ा प्रिय है क्योंकि इस महीने में ही भगवान विष्णु योग निद्रा से जागते हैं और इसलिए  सृष्टि में आनंद और उनकी कृपा की वर्षा भी हो जाती है।  इस महीने में मां लक्ष्मी धरती पर भ्रमण करने के लिए आती है। और भक्तों को धन-धान्य से परिपूर्ण करती है ।

मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए इस महीने धन त्रयोदशी दीपावली गोपाअष्टमी मनाई जाती है ।इस महीने में विशेष पूजा करके माता के आशीर्वाद से धन-धान्य की प्राप्ति होती है और  कर्ज से मुक्ति पाई जाती है

Comments

comments