दिल्ली में खुलेंगे स्कूल

शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने ऐलान किया है कि दिल्ली में 5 फरवरी से नवी और ग्यारहवीं के स्कूल फिर से खोले जाएंगे 

हालांकि 18 जनवरी से दसवीं और बारहवीं की कक्षाएं शुरू की जा चुकी है सिसोदिया ने बताया है कि अब नवी और ग्यारहवीं की क्लास भी शुरू की जाएगी 

इसके साथ ही कॉलेज, डिग्री या डिप्लोमा इंस्टीट्यूट को भी खोलने की अनुमति दी जाएगी।

 

फॉलो करना होगा प्रोटोकॉल

इस एलान के साथ ही यह भी जारी किया गया है कि कोरोना प्रोटोकॉल को सभी को फॉलो करना होगा 

और इसके अलावा स्कूल में एडमिशन के लिए अभिभावकों की अनुमति लेना भी जरूरी होगी

इसके साथ ही दिल्ली सरकार इसका भी फाइनल प्लान तैयार करेगी कि कब स्टूडेंट्स को परीक्षाओं के लिए बुलाया जा सकता है

दिल्ली में 5 फरवरी से नवी और ग्यारहवीं क्लास के स्कूल खुलने के साथ ही दिल्ली के सभी डिग्री पॉलिटेक्निक और आईटीआई संस्थानों को भी खोलने की घोषणा कर दी गई है

साथ ही सभी अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए गए हैं कि कोरोना से सभी स्टूडेंट की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए।

उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि "10 महीने तक स्कूल व कॉलेज बंद होने के बाद अब परीक्षाओं को प्रैक्टिकल की तैयारियों के लिए इन्हें खोला जा रहा है 

इसलिए स्कूल व कॉलेज को दोबारा खोलने संबंधित पूरी व्यवस्था करना बहुत आवश्यक होगा

अधिकारियों को स्कूल व कॉलेजों में जाकर कोरोना वायरस के सभी नियमों का पालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है

उन्होंने कहा कि हर क्लास में सोशल डिस्टेंसिग का पालन किया जाए, सैनिटाइजर की उपलब्धता हो और मास्क लगाना भी अनिवार्य हो। 

शिक्षा विभाग द्वारा भी नवी और ग्यारहवीं कक्षाओं के लिए कुछ दिशा निर्देश भी जारी किए गए हैं  

10वीं और 12वीं के स्कूल पहले ही खोले जाने के आदेश जारी कर दिए गए थे बोर्ड परीक्षाओं को देखते हुए और उनकी तैयारियों के लिए ही यह फैसला लिया गया था। 

कोरोना के चलते केजरीवाल सरकार ने 16 मार्च 2020 से दिल्ली के सभी स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया था

तभी से दिल्ली के सभी स्कूल बंद थे अब कोरोना वैक्सीन की शुरुआत और कोरोना की रफ्तार को थमता देख कर स्कूल को फिर से खोलने के आदेश जारी किए गए हैं … '$'

Comments

comments