40 लाशें गंगा में किनारे बहती नजर आई

बिहार के बक्सर में सोमवार को 40 लाशें गंगा में किनारे बहती नजर आई थी यह खबर खूब तेजी से वायरल हो गई इस खबर को पब्लिक वेबसाइट पर पब्लिश किया गया अब सोशल मीडिया पर इस घटना से जुड़ी एक फोटो वायरल हो रही है फोटो में देखा जा सकता है कि नदी में पड़ी लाशों को जानवर  नोच नोच कर खा रहे है।

वायरल फोटो में ये दावा किया जा रहा है कि ये फोटो  बिहार के बक्सर का है जहां गंगा नदी में कोरोना काल मे बढ़ती हुई कोरोना महामारी  को देखते हुए  और कोरोना महामारी से संक्रमित होने के बाद  जिन शवों को श्मशान में जगह नहीं मिली  उन शब्दों को इस नदी में फेंका गया ऐसा इस वायरल फोटो में कहा जा रहा है।

 वायरल फोटो में और क्या किया जा रहा है दवा?

गंगा नदी में सडी लाशो की दुर्दशा को देखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल करने की हिम्मत कोई नहीं कर पा रहा है तो यकीन मानिए आप गुलामी की जिंदगी जी रहे हैं।

शमशान में जलाने के लिए जगह नहीं है। और मौतों के बाद इनके शरीर कुत्ते और कौवे नोच खा रहे हैं और भक्त भक्ति में लीन है इस तरह का इस वायरल फोटो में दवा किया जा रहा है । हालांकि जब वायरल फोटो की जांच की गई तो यह जानकारी मिलेगी यह फोटो गिट्टी इमेज की वेबसाइट पर उपलब्ध है।

वेबसाइट के मुताबिक गंगा नदी में तैरती लाशों के इर्द-गिर्द बैठे कव्वे और कुत्तों की यह फोटो यूपी के उन्नाव की है ध्यान देने वाली बात यह है कि यह फोटो 13 जनवरी 2014 की है साफ है कि यह सोशल मीडिया पर 7 साल पुरानी फोटो का हाल ही में हुई घटना के साथ जोड़कर केवल वायरल किया जा रहा है असल में सच्चाई तो यह है कि यह फोटो 7 साल पुरानी है।

Comments

comments