अमित-पंघाल-और-संजीत-ने-फ्रेंच-मुक्केबाजी-टूर्नामेंट-में-गोल्ड-मेडल-जीते

मार्च में जोर्डन में हुए ओलंपिक क्वालीफायर के बाद भारतीय मुक्केबाजों के लिये यह पहला टूर्नामेंट है. भारत के नौ मुक्केबाज तोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं

विश्व चैम्पियनशिप के रजत पदक विजेता अमित पंघाल (52 किलो) और संजीत (91 किलो) ने कोरोना वायरस महामारी के बाद पहली प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक हासिल किया. दोनों खिलाड़ी फ्रांस के नांतेस में हो रहे अलेक्सिस वेस्टाइन अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी टूर्नामेंट में शीर्ष रहे. एशियाई खेल चैंपियन और राष्ट्रमंडल खेल रजत पदक विजेता अमित ने अमेरिका के रेने अब्राहम को शुक्रवार की रात हुए मुकाबले में 3-0 से हराया. इंडिया ओपन स्वर्ण पदक विजेता संजीत ने फ्रांस के सोहेब बूफिया को मात दी.

एशियाई रजत पदक विजेता आशीष कुमार ने 75 किलोवर्ग में स्वर्ण पदक जीता जब उनके प्रतिद्वंद्वी अमेरिका के जोसेफ जेरोम हिक्स चोट के कारण फाइनल नहीं खेल सके. एशियाई रजत पदक विजेता कविंदर बिष्ट (57 किलो) को रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा जो सैमुअल के से 2-1 से हार गए.

भारत ने टूर्नामेंट में तीन कांस्य पदक पहले ही जीत लिये हैं. चार बार के एशियाई पदक विजेता शिवा थापा (63 किलो), सुमित सांगवान (81 किलो) और सतीश कुमार (प्लस 91 किलो) सेमीफाइनल में हार गए थे. मार्च में जोर्डन में हुए ओलंपिक क्वालीफायर के बाद भारतीय मुक्केबाजों के लिये यह पहला टूर्नामेंट है. भारत के नौ मुक्केबाज तोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं जिनमें पांच पुरूष और चार महिला हैं.

Source: https://www.abplive.com

Comments

comments