wipros-azim-premji-images

भारत की कंपनी विप्रो के संस्थापक अजीम प्रेमजी ने भारत सरकार को कोविड-19 के खिलाफ देश के मेगा टीकाकरण अभियान में प्राइवेट सेक्टर को भागीदारी की मंजूरी देने का प्रस्ताव रखा है। उन्होंने कहा कि यदि सरकार इसे निजी क्षेत्र के साथ जोड़ती है,तो अगले 60 दिनों में करीब 50 करोड़ से अधिक लोगों का विश्लेषण किया जा सकता है। बेंगलुरु चेंबर ऑफ इंडस्ट्री एंड कॉमर्स द्वारा आयोजित एक संवाद सत्र को संबोधित करते हुए प्रेम भी ने भारत के टीकाकरण कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि कोविड-19 को रिकॉर्ड समय में विकसित किया गया है।

आज बड़े अनुपात में लोगों तक पहुंचाने की आवश्यकता है बता दे मोदी सरकार ने बजट में ₹35000 करोड़ खर्च करने के लिए जनसंख्या के बड़े हिस्से के टीकाकरण करने का फैसला किया है। आवंटन में लगभग 50 करोड़ भारतीयों को टीका लगाने में मदद करने की उम्मीद की जा रही है। सरकार ने वैक्सीन की लागत और अन्य लागत सहित प्रति व्यक्ति ₹700 की लागत का अनुमान लगाया है।

कोरोना टीकाकरण image 2021

सरकार ले निजी क्षेत्रों को भी साथ

अजीम प्रेमजी ने वित्त मंत्री से कहा कि इस बात की संभावना है कि हम सीरम संस्थान को लगभग ₹300 प्रति शॉट और अस्पताल में निजी नर्सिंग होम ₹100 प्रति शॉर्ट उपलब्ध करवा सकते हैं, ऐसे में ₹400 प्रति शॉट के साथ एक बहुत बड़ी संख्या का टीकाकरण किया जा सकता है। प्रेम जी के मुताबिक यदि सरकार निजी क्षेत्र को इसमें साथ ले लेती है तो देश 60 दिनों के भीतर 50 करोड़ लोगों को कवर कर सकता है।

उन्होंने कहा कि यह बहुत प्रैक्टिकल है और महत्वपूर्ण भी है। प्रेमजी ने क्षेत्र के सक्रिय भागीदारी के लिए टीकाकरण के प्रयासों में तेजी लाने के लिए महिंद्रा समूह के अध्यक्ष आनंद महिंद्रा सहित अन्य उद्योग के नेताओं में शामिल हुए। उद्योग लॉबी ने भी टीकाकरण अभियान में कॉर्पोरेट क्षेत्र की पूर्ण भागीदारी की वकालत की।

परोपकार हमेशा भारत की संस्कृति और परंपरा रहा है

अजीम प्रेमजी ने कहा कि कोविड-19 के चलते लागू लॉकडाउन के पहले कुछ हफ्तों में प्रौद्योगिकी उद्योग के 90% लोग घर से काम करने लगे थे और आज भी 90% से अधिक लोग घर से काम कर रहे हैं।उन्होंने कहा आज प्रौद्योगिकी हमारे लिए जीवन रेखा बन रही है। उन्होंने लोगों से कुछ ना कुछ परोपकार के कामों में शामिल रहने की अपील की और कहा कि परोपकार हमेशा भारत की संस्कृति और परंपरा का हिस्सा रहा है।

आपको बता दें कि अपने पहले दो चरण में टीकाकरण किया जा चुका है और एक मई 2021 से 18 साल से अधिक उम्र वाले भारतीय नागरिकों को टीकाकरण किया जाएगा। इसके लिए आपको पहले रजिस्ट्रेशन करवाना होगा, उसके बाद आपको टीकाकरण किया जाएगा।

Comments

comments